केवल सन्यास का दिखावा करना किसी व्यक्ति के भगवान के राज्य में प्रवेश के लिए पर्याप्त नहीं होता.

एक गंभीर भक्त भगवान से यही प्रार्थना करता है “आपको प्रेम करने में मेरी सहायता करने की कृपा करें”.

लोगों को चमकने वाले कीटों के प्रकाश की अपेक्षा आकाश के वास्तविक ज्योति नक्षत्रों का लाभ उठाना सीखना चाहिए.

Load More Posts