जगत उत्पत्ति2021-04-15T08:10:24+05:30

जगत उत्पत्ति

ध्रुवलोक नामक, ध्रुवतारा, ब्रम्हांड की धुरी है, और सभी ग्रह इसी ध्रुवतारे की परिक्रमा में ही गति करते हैं.

समय का कारक इतना बाध्यकारी होता है कि कालांतर में इस भौतिक संसार की सभी वस्तुएँ समाप्त हो जाती हैं या खो जाती हैं.

Deity Darshan

Lord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord KrishnaLord Krishna

वैष्णव कैलेंडर

<< जून 2024 >>
27 28 29 30 31 1 2
3 4 5 6 7 8 9
10 11 12 13 14 15 16
17 18 19 20 21 22 23
24 25 26 27 28 29 30

Today’s Events

  • ----

Upcoming Events

  • ----

Join Our Whatsapp Group

We share content in Hindi & English

Click Here